निबंध भाषण

10 Lines on Dr. Abdul Kalam in Hindi – डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम

10, 15 lines on Abdul Kalam in Hindi
Mumbailive.com

डॉ. अब्दुल कलाम भारत के एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक थे. इस लेख में हमने डॉ. अब्दुल कलाम जी के बारेमे १०, १५ वाक्योंमे एक हिंदी लघु निबंध दिया है. यह लेख आपको निबंध लेखन, भाषण में मदत करेगा. तो चलिए शुरू करते है.

10 Lines Short Essay on A.P.J. Abdul Kalam in Hindi

सूचना: इस महान व्यक्ति के बारे में सिर्फ १० लाइनों में लिखना संभव नहीं है| इसीलिए हम यहां सब जानकारी एक छोटे निबंध या भाषण के रूप में दे रहे हैं। आप अपनी आवश्यकता के अनुसार ५,१०,१५,२०,२५ लाइनों का चयन कर सकते हैं।

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को “मिसाइल मैन ऑफ इंडिया” के नाम से जाना जाता है। वह छात्रों में “कलाम चाचा” के नाम से प्रसिद्ध हैं। उन्हें “जनता के राष्ट्रपति” भी कहा जाता है| उनका पूरा नाम “अउल पकीर जैनुलाब्द्दीन” है। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का जन्म १५ अक्टूबर १९३१ को रामेश्वरम, रामनाथपुरम जिला, तमिलनाडु में हुआ था। उनके पिता का नाम जैनुलाब्द्दीन और उनकी मां का नाम आशिअम्मा है| बचपन में वह समाचार पत्र बेचके घर में आर्थिक मदद करते थे। बचपनसे गणित उसका पसंदीदा विषय था|

ग्रेजुएशन स्तर की पढ़ाई के बाद १९५८ में उन्होंने डीआरडीओ में एक वैज्ञानिक के रूप में काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने विभिन्न रॉकेट परियोजनाओं पर काम किया, बाद में उन्हें इसरो में स्थानांतरित किया गया| वहां उन्होंने एसएलवी-३ पर काम किया। डॉ. कलाम १९९२ में रक्षा मंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार बने। डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम २००२ में भारत के ११वें राष्ट्रपति बने। उन्हें १९९० में पद्म-विभूषण से सम्मानित किया गया और १९९७ में भारत रत्न से। 10, 15 Lines on Dr. A. P. J. Abdul Kalam in English

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम बच्चों और वैज्ञानिक समुदाय में बहुत प्रसिद्ध थे। अपनी आत्मकथा “विंग्स ऑफ फायर” में, उन्होंने हमारे साथ अपने जीवन का अनुभव साझा किया है| यह किताब हर विद्यार्थिने पढ़नी चाहिए| अफसोस की बात है कि २७ जुलाई २०१५ को ८३ वर्ष की उम्र में, डॉ. अब्दुल कलाम की हृदय की बीमारी से मृत्यु हो गई।

वह सिर्फ भारतीयों के लिए नहीं बल्कि दुनिया के लिए एक प्रेरणा है| उन्होंने शुन्य से शुरुवात की और सफलता की शिखर पर पहुँचे। १५ अक्टूबर अब्दुल कलाम जी का जन्मदिन पूरे विश्व में “विश्व छात्र दिवस” के रूप में मनाया जाता है।

हम आशा करते ही की आपको यह डॉ. अब्दुल कलाम के बारेमे लिखा हुआ १०, १५ वाक्योंका निबंध अच्छा लगा. आपका अभिप्राय निचे कमैंट्स में जरूर दीजिये. धन्यवाद.

About the author

Ajay Chavan

"Cut from a different cloth"
I believe words have the power to change the world. So, here I am, determined to change the world and leave my mark on it, one word at a time.
A writer, amateur poet, ardent dog lover, Sanskrit & Urdu enthusiast, and a seeker of Hiraeth.

Leave a Comment