१० पंक्तियाँ शिक्षा

पृथ्वी बचाओ पर १० वाक्य हिन्दी- 10 Lines on Save Earth

prithvi dharti bachao 10 15 psnktiya vakya hindi me

इन दिनों स्कूल कम उम्र में विद्यार्थियों को बड़ी समस्याओं से अवगत कराने का प्रयास करते हैं ताकि वे इसके बारे में जान सकें और इसके बारे में सोच सकें। इसलिए वे प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन, पेड़ बचाओ, जल, पृथ्वी का महत्व आदि विषयों पर ५, १० से १५ लाइनों के निबंध या भाषण का असाइनमेंट देते हैं। आप इन विषयोंकी पूरी लिस्ट यहां देख सकते हैं। यहाँ इस लेख में, हम पृथ्वी विषय पर चर्चा करेंगे।

यहाँ लेख के पहले भाग में, हमने पृथ्वी विषय पर ५ , १० और कुछ अतिरिक्त लाइन्स दि हैं। हमने वाक्यों की संरचना और भाषा को सरल रखने की कोशिश की है| यह खंड कक्षा lkg, ukg, १,२,३ आदि के छात्रों के लिए अच्छा है। अगले भाग में, हमने पृथ्वी पर एक छोटा भाषण या निबंध दिया है। यह खंड कक्षा ४, ५, ६, ७, ८ के छात्रों के लिए उपयुक्त होगा। हमने इस खंड में कुछ १५ से २० वाक्य दिए हैं।

पृथ्वी, धरती के बारे में ५ वाक्य, पंक्तियां हिंदी में

  1. हम सभी पृथ्वी पर रहते हैं।
  2. यह सूर्य से तीसरा ग्रह है।
  3. इसे “ब्लू प्लेनेट” भी कहा जाता है।
  4. इसमें ७१% पानी और २९% भूमि है।
  5. पृथ्वी कई परतों से बनी है।
  6. चंद्रमा पृथ्वी की परिक्रमा करते हैं।

10 Lines On Prithvi Bachao in Hindi for Class 1,2,3 Students

  1. पृथ्वी सौर मंडल में सूर्य से तीसरा ग्रह है।
  2. जीवन पनपनेवाला पृथ्वी एकमात्र ग्रह है।
  3. धरती ४.५ अरब साल पहले बनी है|
  4. पृथ्वी सूरज के चक्कर काटती है |
  5. चंद्रमा पृथ्वी का उपग्रह है, यह पृथ्वी के चक्कर काटता है|
  6. धरतीपर ७१% पानी और २९% जमीन से आच्छादित है।
  7. इसे “ब्लू प्लैनेट” या “मदर अर्थ” भी कहा जाता है|
  8. कुछ देश के लोग इसे एक देवी के रूप में पूजा करते हैं।
  9. पृथ्वी का आकार गोलाकार है।
  10. पृथ्वी के वातावरण की विभिन्न परतें हैं|
  11. पृथ्वी के अंदर भी अलग-अलग परतें हैं|
  12. पृथ्वी की सतह पहाड़ों, घाटियों, विभिन्न प्रकार के जंगलों से बनी है।

15 to 20 Lines Short Essay on Save Earth for Class 4,5,6 Students

पृथ्वी हमारे ब्रह्मांड में एक अनोखी जगह है| यह हमारे ब्रह्मांड में एकमात्र स्थान है जहां जीवन मौजूद है। हमारी आकाशगंगा में लाखों सितारे और ग्रह हैं, और ब्रह्मांड में लाखों ऐसी आकाशगंगाएं हैं फिर भी, पृथ्वी केवल जगह है जहां जीवन मौजूद है। यह एक चमत्कार है। फिर भी, हम पृथ्वीका महत्व नहीं समज पातें हैं| पृथ्वी हमें पर्यावरण, प्रकृति, पहाड़, भूमि, पानी, हवा देता है; इसके बिना हम बच नहीं सकते, लेकिन फिर भी, हम इसको नुकसान पहुँचा रहें हैं।

हम खनिज, ईंधन और कीमती धातुओं के लिए पृथ्वी का खनन कर रहे हैं, हम सचमुच पृथ्वी को लूट रहे हैं। हम पेड़ोंको काट रहे हैं, जंगलों को जला रहें है और उसके जगह सीमेंट के जंगलों का निर्माण कर रहे हैं। हम हवा में जहरीले रासायनिक गैसों को छोड़ कर रहे हैं| हम समुद्र और नदी में हानिकारक औद्योगिक अपशिष्ट का निर्वहन कर रहे हैं। हम हर जगह कचरा, प्लास्टिक फेंक रहे हैं। हम अपनी पृथ्वी माँ को नष्ट करने के लिए सभी संभव प्रयत्न कर रहे हैं। भारत जैसे देशों में, पृथ्वी को एक देवी के रूप में माना जाता है| एक तरफ, हम इसे एक देवी के रूप में पूजा करते हैं और दूसरी तरफ हम इसे लूट रहे हैं, इसे नोच रहें हैं।

अगर मानवता को इस धरती पर रहना हैं, तो हमें इस सब शोषण से पृथ्वी को बचाने की आवश्यकता है। अगर पृथ्वी का संहार इसी प्रकार जारी रहता है तो, हमारी अगली पीढ़ी पीने योग्य पानी के लिए लढेगी, वे खुली हवा में सांस नहीं ले सकेंगे। जिस तरह से हम इन दिनों बोतलबंद पानी खरीद रहे हैं, वह दिन बहुत दूर नहीं है जब हमें बोतलबंद हवा खरीदनी होगी।

पृथ्वी के पास शक्तियां हैं, जिसे कोई इंसान चुनौती नहीं दे सकता। यदि पृथ्वी बोल सकती है तो वह हमें चेतावनी देती| उसके पास यह सब क्षणों में खत्म करने की शक्ति है| हमें पृथ्वी को बचाने के लिए हर संभव कदम उठाने की ज़रूरत है, या फिर एक दिन मानवता विलुप्त हो जाएगी।

Note: If you like the given essays then give us a good rating. You can also tell us how people are destroying our mother earth and how we can save it?

About the author

Ajay Chavan

"Cut from a different cloth"
I believe words have the power to change the world. So, here I am, determined to change the world and leave my mark on it, one word at a time.
A writer, amateur poet, ardent dog lover, Sanskrit & Urdu enthusiast, and a seeker of Hiraeth.

Leave a Comment