१० पंक्तियाँ शिक्षा

मेरे पिता पर १० वाक्य, पंक्तियां हिन्दी- 10 Lines on My Father

mere poitaji par 10 15 panktiya vakya hindi me

हमारे माता, पिता हमें जन्म देते हैं, हमें पालते-पोसतें है, हमारा ख़याल रखतें है| उनका महत्व समजानेके लिए स्कूल कहीं बार मेरी माँ, मेरे पिता जैसे विषयों पर होमवर्क देतें है| उन्हें मेरी माँ, मेरे पिता के बारे में ५, १०, या २० लाइन्स शॉर्ट एस्से या भाषण पूछा जाता है| तो आज हम आपको यहाँ मेरे पिता विषय पर जानकारी देने वाले है|

पहले सेक्शन में दिए हुए ५ वाक्य LKG, UKG के बच्चोंके लिए है| आगे दी हुई १० लाइन्स क्लास १,२,३,४,५ के लिए है और आखिर में दिया हुआ १५ से २० लाइन्स का लघु निबंध क्लास ५,६,७,८ के लिए है| आशा करते है की आपको यह जानकारी अच्छी लगेगी|

मेरे पिता के बारे में ५ वाक्य/पंक्तियां हिंदी में -10 Lines on My Father

  1. मेरे पिता का नाम शंकर देसाई हैं|
  2. उनकी उम्र ३५ साल है|
  3. वह बैंक में काम करते है|
  4. मैं उन्हें “पिताजी” बुलाता हूँ|
  5. मेरे पिता मुझसे बहुत प्यार करतें है|
  6. वह बहुत अच्छे है|

10 Lines On Mere Pita in Hindi for class 1,2,3 Students

यहां हमने आपको मेरे पिता विषय पर १० वाक्य / पंक्तियाँ दी है|

  1. मेरे पिता का नाम आकाश शेट्टी है, वह ३३ साल के है।
  2. वह एक निजी बैंकर के रूप में बैंक में काम करते है।
  3. मेरे पिता मुझे “बेटा” कहते हैं और मैं उन्हें “पापा” कहता हूं|
  4. सुबह में, पिताजी मुझे स्कूल के लिए तैयार होने में मदद करते है|
  5. वह और मेरी माँ दोनों होमवर्क में मेरी मदद करते हैं|
  6. कभी-कभी मेरे पिता खाना पकाने में मेरी मां की मदद करते हैं|
  7. मेरे पिता खाने के बड़े शौक़ीन है|
  8. उन्हें खाना बनाना भी अच्छा लगता है|
  9. उन्होंने मुझे अजनबियों से बात करने के लिए मना किया है|
  10. मेरे पिता मेरे जन्मदिन पर बहुत सारे खिलौने लाते है|
  11. वह मेरे और मेरी बहन के साथ लूका-चुप्पी खेलते है।
  12. मेरे पिता कभी कभी मेरे लिये लोरी गाते हैं लेकिन मम्मी बेहतर गाती हैं|
  13. मैं अपने पिता से प्यार करता हूं और वह भी मुझे प्यार करते है|

15 to 20 Lines Short Essay on My Father for Class 4,5,6 Students

यहां दी गयी जानकारी आप शॉर्ट निबंध, भाषण या पैराग्राफ के लिये इस्तेमाल कर सकते है|

मैं अपने पिता से बहुत प्यार करता हूं, वह मुझ पर कभी चिल्लाते नहीं। वह मेरी बहुत परवाह करते है, जब मैं खुद को चोट पहुँचाता हूं, तो वो कभी कभी रो भी पढ़ते है। उन्होंने मुझे साफ और अनुशासित रहना सिखाया है। मेरे पिता बैंक में काम करते है, वे वहां वरिष्ठ प्रबंधक के पद पर काम करते है वह अपने परिवार को समय देतें है, शनिवार और रविवार को वह हमेशा परिवार में साथ रहते है|

मेरे पिता ने मुझे और मेरी बहन को अजनबियों से बात करने या उनसे चॉकलेट लेने से मना किया है| वे हमारी बहुत फ़िक्र करतें है, और मुझे उनकी यह बात खूब भाती है| मेरे पिता मुझे रोज़ स्कूल छोड़ने और लेने आते है| वह स्कूल में हर पैरेंट मीटिंग ले लिये उपस्थित रहते है| मेरे पिताजी मेरे लिए बहुत सारे खिलौने खरीदते हैं, मुझे अपना छोटा गिटार बहुत पसंद है। वो हमारे साथ खेलने के लिये वक्त निकालते है| सप्ताहांत (वीकेंड) पर वह मुझे पार्क में खेलने के लिये लेके जातें है|

मेरी माँ एक आईटी कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है| मेरे पिता माँ के करियर के समर्थन करते है| उनका मानना है हर महिला को पढाई और नौकरी करनेका अधिकार है| वे मेरी बहन को ऑस्ट्रोनॉट (अंतरिक्ष यात्री) बनाना चाहतें है| मेरे पिता की सोच बहुत ही प्रेरणादायक है, मैं उनके जैसा बनाना चाहता हूँ| मैं अपने पिता से बहुत प्यार करता हूँ, वो मेरे हीरो है|

सूचना: Mere Pita विषय पर दी हुई जानकारी अगर आपको पसंद आयी हो तो अपने विचार कमेंट सेक्शन में साँजा कीजिये|

About the author

Ajay Chavan

"Cut from a different cloth"
I believe words have the power to change the world. So, here I am, determined to change the world and leave my mark on it, one word at a time.
A writer, amateur poet, ardent dog lover, Sanskrit & Urdu enthusiast, and a seeker of Hiraeth.

Leave a Comment